Custom Pages
[vc_separator type='transparent' color='' thickness='' up='20' down='7']
Portfolio
[vc_separator type='transparent' color='' thickness='' up='20' down='7'] [vc_separator type="transparent" position="center" up="12" down="16"]
 

प्यार भरी बारिश

प्यार भरी बारिश

ये प्यार भरी बारिश का,
मौसम ज़ब भी आता है,
ख्वाहिश कुछ दबी हैं दिलों में,
जो खुलकर शोर मचाता है
मेरे एक प्यारे सपने को आँखों के सामने,
कुछ यूँ दर्शाता है...
प्यार भरा ज़ब मौसम होगा,
मैं तेरे - तू मेरे संग होगा,
राहों पर पैदल ही क्षण भर का,
वो सफर यादगार होगा,
जब साथ में कुल्हड़ वाली चाय और हल्की बारिश का उमंग होगा,
तेरे मेरे जीवन के
कुछ बीते खट्टी-मीठ-प्यारी किस्सों का,
जिक्र बार-बार होगा।
राहों पर कुछ बिखरे फूल और हल्की बारिश संग ठंडी हवाओं का झोका हो,
भीगेंगे दोनों प्यार भरी बारिश में,
जहाँ कोई रोक ना हो,
तेरे मेरे संग रहने से,
एक दूजे पर कोई दोष ना हो।
चलती चलूँगी तेरे संग,
तेरे कंधे पर होगा मेरा सर,
देख ज़माना चाहे जो सोचे,
हम दोनों को ही कोई होश ना हो।
पैदल, चलते- चलते राहों पर,
जब थक जायेंगे हम दोनों,
हरी भरी वादियों के बीच बैठकर,
सपने सजायेंगे हम दोनों।
हाथ पकड़कर एक दूजे का,
आसमानों में देखेंगे हम दोनों।
उस सतरंगी इन्द्रधनुष के रंगों-सा,
अपने प्यार को सजायेंगे हम दोनों।
ये प्यार भरी बारिश का,
मौसम ज़ब भी आता है,
ख्वाहिश कुछ दबी हैं दिलों में,
जो खुलकर शोर मचाता है।
No Comments

Post A Comment