Custom Pages
[vc_separator type='transparent' color='' thickness='' up='20' down='7']
Portfolio
[vc_separator type='transparent' color='' thickness='' up='20' down='7'] [vc_separator type="transparent" position="center" up="12" down="16"]
 

गर्व है मुझे भारत-वासी होने का

गर्व है मुझे भारत-वासी होने का

जब भी मुझसे कोई पूछता है,
कौन हूँ मै?
गर्व सा होता है मुझे बताने मे,
भारत की नारी भारतीय हूँ मैं।
उस देश की वासी हूँ मैं,
जिसे सोने की चिड़िया,
एकता और अखंडता,
के नाम से पुकारा जाता है।
जहाँ सब मिल आपस में,
करते हैं बोली- भाषा , वेश - भुषा का,
आदान - प्रदान,
और साथ ही करते हैं सभी सँस्कृति का सम्मान।
*ये चन्द पक्तिया वर्तमान को देखते हुए'
एक बार नहीं हर बार मेहसूस होता हैं गर्व सा,
देख अपने देश की एकता-अखंडता,
आँखो मे खुशी की अश्क हैं।
आज हर भारतीय इस मुश्किल वक़्त मे भी,
बजा थाली और ताली गर्व कर रहा भारत वासी होने का।
तो कभी दीप जला कर रहे हैं,
अपने मन और देश को इस मुश्किल परिस्थिति मे भी अंधकार से दूर।
आज जब सब देश एक दूसरे की,
मदद के हाथ खींच लिये,
इतिहास गवाह रहेगा,
लाख विवाद और शत्रु होने पर भी,
भारत ने बोला हमसे जो बन पढ़ेगा हम करेगे अपने पड़ोसी देश की मदद।
पूरे विश्व मे जहाँ कल तक,
भारतीय संस्कृति का हास्य उड़ाया जाता था,
आज जान पर क्या बनी सब खुशी खुशी अपनाने लगे हैं भारतीय संस्कृति।
देखो मानो ये सब हर्फ़ होकर,
गर्व सा मेहसूस कर रही हूँ मैं।
नमन है मेरा उन वीरों को,
जिन्होंने धरती माँ के प्रेम में,
अपनी जान भी खुशी से दे डाली।
अभिमान है मुझे खुद पर,
मैं भारत की नारी हूँ।
गर्व होता है मुझे ये कहते हुए,
की मैं भारत की वासी हूँ।
No Comments

Post A Comment