Custom Pages
[vc_separator type='transparent' color='' thickness='' up='20' down='7']
Portfolio
[vc_separator type='transparent' color='' thickness='' up='20' down='7'] [vc_separator type="transparent" position="center" up="12" down="16"]
 

शहीद गीत

शहीद गीत

जिसके तन-मनमें बसती माँ,
बनाया माटी को चंदन है।
हे सैनिक वीर नमन है,
तुझे रणधीर नमन है।
है नमन उस जननी को,
जिनने जने हैं अमरलाल।
काल जहाँ नतमस्तक है,
प्रमुदित है वह महाकाल।
जिसने समर में कर दिया,
समर्पित निज यौवन है। हे०
ममता की गोद हुई सूनी,
राखी का बंधन टुट गया।
प्रिया से रूठ गए प्रियतम,
लाली सिंदूर का लुट गया।
माँ भारती अपलक निहारती,
तेरा तिरंगे से लिपटा तन है। हे०
तेरे शौर्य से कांपे धरती,
तेरा साहस चुमे आकाश।
जहाँ साधना है संगीन की,
जिसके हुंकार में सर्वनाश।
कर अपना सर्वस्व समर्पण,
गाता जन गण मन है। हे०
काल चक्र को रौंद कर,
परमवीर चक्र पाने वाले।
अशोक,शौर्य, महावीर चक्र
ले वंदे मातरम गाने वाले।
वीरचक्र की जीवित कहानी,
सब शहीदों को वंदन है। हे०
No Comments

Post A Comment