Custom Pages
[vc_separator type='transparent' color='' thickness='' up='20' down='7']
Portfolio
[vc_separator type='transparent' color='' thickness='' up='20' down='7'] [vc_separator type="transparent" position="center" up="12" down="16"]
 

नाचू मैं आज झूम झूम के

नाचू मैं आज झूम झूम के

घिर आए बदरा, सावन आया झूम के,
मन मयूर मचल रहा, नाचू मैं आज झूम झूम के।
घनघोर घटा छाई, उमंगे पंख फैलाकर आई,
मन मयूर मचल रहा, नाचू मैं आज झूम झूम के।
दामिनी गरज रही, बारिश की बूंदे मोती सी उछल रही,
धड़कने गा रही सरगम कूक के, अँखियों में नींद नहीं आज,
मन मयूर मचल रहा, नाचू मैं आज झूम झूम के।
अमबुआ की डाल पर झूल रही सखियाँ,
गीत मल्हार गाए कोई, कोई असुअन झडी लगाए बिरहा में टूट के,
मन मयूर मचल रहा, नाचू मैं आज झूम झूम के।
पिया मिलन की आंस में सिहरूँ, आईने में खुद को एक टक निहारुँ,
करके सोलह सिंगार,
मन मयूर मचल रहा, नाचू मैं आज झूम झूम के।
पायल निगोड़ी शोर मचाए, हाल दिल का सबको बताए,
लाज से लाल हुए मेरे गाल,
मन मयूर नाच रहा, नाचू मैं आज झूम झूम के।
पैरों में मेहंदी, अलता लगाया, मांग भरी और कंगना छनकाया,
हिलोर उठ रही मन में हजार,
मन मयूर नाच रहा, नाचू में आज झूम झूम के।
No Comments

Post A Comment