Custom Pages
[vc_separator type='transparent' color='' thickness='' up='20' down='7']
Portfolio
[vc_separator type='transparent' color='' thickness='' up='20' down='7'] [vc_separator type="transparent" position="center" up="12" down="16"]
 

मेरे प्यारे गुरु

मेरे प्यारे गुरु

मेरे प्यारे गुरु..
बचपन से वह मेरे साथ हैं,
किसी न किसी रूप में मेरे सर पर उनका हाथ है,
बच्चों धीरे से बताती हूँ यह मेरे गुरु की बात है,
हर समय हर वक्त साथ हैं,
मुझे हमेशा याद रहेगा कभी मेरा वक्त भी कहेगा,
अब तेरा समय आ गया है,
तेरे गुरु की महिमा रंग दिखा गया है,
मेहनत की बहुत ज्यादा होती है, जब भी तो उनकी शिक्षा में इबादत होती है,
खुदा का शुक्र है जो सबकी जिंदगी में एक गुरु का ज़िक्र, हमेशा गुरु की इज्जत करो,
कम सही मगर उसकी शिक्षा को सिद्दा करो,
अब कहना और सुनना तो बाद की बात है,
अभी तो फिलहाल मेरे सर पर मेरे गुरु का हाथ है।।
No Comments

Post A Comment